हमेशा अपनी सोच पॉजिटिव बनाकर रखें और खुश रहें

अपनी सोच को सकारात्मक रखें

अमेरिका में, एक कैदी को मौत की सजा सुनाई गई, तब वहां के कुछ वैज्ञानिकों ने सोचा कि क्यों न इस कैदी पर कुछ प्रयोग किया जाए। तब कैदी से कहा गया कि हम आपको फांसी से नहीं बल्कि जहरीले कोबरा सांप को मारेंगे।

उसके बाद एक बड़े ज़हरीले साँप को उसके सामने लाने के बाद, कैदी की आँखें बंद कर उसे एक कुर्सी से बाँध दिया गया और उसे साँप नहीं, बल्कि दो सेफ्टी पिन लेकर उसके शरीर में चुभो दिए।

पिन चुभोने के कुछ देर बाद ही उस कैदी की  मौत हो गई, पोस्टमार्टम के बाद पाया गया कि कैदी के शरीर में सांप के जहर के समान जहर था। अब यह जहर कहां से आया जिसने उस कैदी की जान ले ली, वि जहर जो उसके खुद से उत्पन्न हुआ था वो उसके सदमे से हुआ था।

इसलिए हमारा शरीर भी नकारात्मक सोच के साथ हमेशा नकारात्मक ऊर्जा ही उत्पन्न करता है और यह हमारे शरीर में तदनुसार हार्मोन का उत्पादन करता है। 75% रोगों का मूल कारण नकारात्मक विचार से उत्पन्न ऊर्जा है। अपनी सोच को हमेशा सकारात्मक रखें और खुश रहें।