अब्राहम लिंकन सफलता की कहानी

अब्राहम लिंकन का जन्म फरवरी 1809 मे हुआ था। यह अमेरीका के सोलह राष्ट्रपति भी रहे चुके हैं। उन्होंने अमेरीका के सबसे बड़े संकट गृहयुद्ध को पार लगाया है। 

लिंकन का जन्म एक गरीब परिवार में हुआ था वह एक वकील, बिजनेस मैन, और कहीं चुनाव हारे है लेकिन उन्होंने जीवन में कभी हार नहीं मानी और एक दिन अमेरीका का राष्ट्रपति बनकर दिखाया है| वह दुनिया के लिए प्रेरणादायक इंसान है जिनके जीवन से लाखो लोग प्रेरित है।

उन्होंने साल दर साल बड़ी बड़ी असफलता का सामना किया है, वह 1831 मे अपने बिजनेस में असफ़ल रहे हैं, उनके बाद उनकी पत्नी की म्रत्यु हो गई थी, 1836 मे उन्हें एक एक psychology प्रॉब्लम हो गई थी, वह एक उप राष्ट्रपति का चुनाव हार गए थे, 1856 मे अमेरीका के राष्ट्रपति के चुनाव में असफल रहे हैं। 

वह 1861 मे अमेरीका के राष्ट्रपति बने हैं। उनका जीवन बहुत मुश्किल से गुजरा है लेकिन उन्होंने समस्याओ का डटकर सामना किया है और एक दिन विजय प्राप्त की है। श्री मान लिंकन कहते हैं कि मुश्किलें कितनी ही बड़ी क्यों ना हो अगर आपमे हौसला है तो वह आपके सामने छोटी नजर आती है। 

 वे कहते हैं कि मुश्किल मे कभी भी इंसान को घबराना नहीं चाहिए बल्कि सही प्लानिंग के साथ अपने कदम उठाने चाहिए। जीवन में समस्या तो आएगी लेकिन यह आपके हौसले के आगे टिक नहीं पाएगी। और संघर्ष करने वाले व्यक्ति की कभी हार नहीं होती है, अब्राहम लिंकन कहते हैं कि अगर आपको अपने मे सफलता पाने का जुनून है तो आप किसी भी हालत में उस काम को पूरा कर सकते हैं।